घसल अठन्नी : कालजयी रचनाकार 'मधुप' केर श्रेष्ठ कविता

जेठक दुपहरि बारहो कला सँ उगिलि उगिलि भीषण ज्वाला आकाश चढ़ल दिनकर त्रिभुवन डाहथि जरि जरि पछबा प्रचण्ड बिरड़ो उदण्ड सन सन सन सन छन छन छन छन आगिक कण सन सन्तप्त धूलि अछि उड़ा रहल खोंतामे पक्षी संच मंच हिलबए न पाँखि खोलए न आँखि तरुतर पशु हाँफै सजल नयन चरबा…

आरके कॉलेज केर सेवानिवृत्त प्राध्यापक डॉ. वेदनाथ झा केर निधन

मधुबनी जिलाक पंडौल प्रखंड अंतर्गत नाहर गाम निवासी मैथिलीक प्रख्यात विद्वान डॉ. वेदनाथ झा केर देहावसान सं शोक पसरल अछि. डॉ. झा आरके कॉलेज केर सेवानिवृत्त प्राध्यापक छलाह आ पछिला किछु साल सं बेमार छलाह. बीतल बृहस्पतिदिन ओ अपन आवास पर भोरे-भोर अंतिम साँस…

यज्ञोपवीत मंत्र - जनेउ मंत्र - Yagyopavit Mantra

Janeu Mantra : यज्ञोपवीत मंत्र अथवा जनेउ मंत्र केर बहुत बेसी महत्व होइ छै. बिना मंत्र कें जनेउ धारण करब व्यर्थ अछि. उपनयन संस्कारक बाद जनेउ धारण करैत नेना विद्यार्जन लेल निकलैत अछि. आधुनिक समय मे शिक्षा व्यवस्था भिन्न छै मुदा मिथिला मे उपनयन ओहिना वैद…

कलकत्ता विश्वविद्यालय मे मैथिली - Maithili in Calcutta University

Maithili in Calcutta University : जानकी जाहि भाषा मे अपन हर्ष, अपन विषाद, अपन पराक्रम, अपन संस्कार सहित सकल व्यक्तित्व ओ व्यवहार कें पोषित कएलनि, से मैथिली भाषा अछि. मिथिलाक धरती अपन अभिव्यक्ति स्वरूप जानकी कें प्रकट केने छल. जानकी मिथिलाक अभिव्यक्ति …

खुरचनभाइ कें साहित्य अकादेमी युवा पुरस्कार

Sahitya Akademi Yuva Puraskar : मिथिमीडिया सम्पादक ओ साहित्यकार रूपेश त्योंथ कें हुनक पोथी व्यंग्य संग्रह खुरचनभाइक कछमच्छी लेल साहित्य अकादेमी युवा पुरस्कार 2022 देल जएबाक घोषणा भेल अछि. मूल रूप सं मधुबनी जिलाक त्योंथा गाम निवासी रूपेश मैथिली साहित्…

कटिबद्धताक दशकपूर्ति : सीमित संसाधन आ अनुभव संग डेगा-डेगी

कोनो काज करबाक लेल कटिबद्धता आवश्यक होइ छै. 10 साल पहिने एही कटिबद्धता संग एकटा लुक्खी प्रयास शुरू केने छलहुं. अनेक झंझावात सहैत ई प्रयास अपन दशक पूर्ति क' रहल अछि से एक बेर फेर असीम उत्साह सं भरि देने अछि.   मिथिमीडिया आइ अपन स्थापनाक एक दशक पूर्…

कवि मैथिल प्रशान्त केर 4 गोट मैथिली कविता

1. गोलमोहर माघक मौलायल रौद,  वैशाखक पछिया पाबि हुड़दंगी भ' गेलैए तहदर्ज नहि रहलैए धरतीक करेज पएरक बेमए सन फाटि गेलैए ज हिं -तहिं अपस्यांत छै चिड़ै चुनमुन्नी  एक्को घोंट पानि नहि भेटि रहलैए कतौ हमर देयादक दुश्मनीक सिमान पर  एहने मौसिममे भकरार भ'…

मिथिला पंचांग - मैथिली पंचांग - कहिया कोन पावनि छै?

मिथिला पंचांग - मैथिली पंचांग - मैथिली पतरा - Mithila Panchang - Maithili Panchang - Maithili Patra -  सनातन धर्म मे वर्ष केर एक-एक दिन लेल किछु ने किछु विशेष जानकारी देल जएबाक परम्परा रहल छै. एकरा एकठाम पंचांग रूप मे प्रकाशित कएल जाइत छै. एहि मे काल-…

सम्पादन कें आत्मसात केने संघर्षरत एकटा योद्धा छलाह राम लोचन ठाकुर

विद्यापति केर सोझां सं जहिना उगना देखिते-देखिते अंतर्धान भेल छलाह तहिना ठाकुर जी हमरा सबहक सोझां सं अंतर्धान भ’ गेलाह. सकल समाज ओहि समय से अनंत पीड़ा कें अनुभव केलक जे कहियो विद्यापति उगनाक बिछोह मे अनुभूति केने छलाह. साहित्यकार हो वा सामान्य सामाजिक क…

चंदना दत्त केर मैथिली कविता 'जय विज्ञान'

देश हमर अछि गुण केर खान  विश्व भरिमे अछि विद्वान  मधुर मधुर ॠतुराजक गान  भौंरा गुनगुन सुनियोजित तान  जय माँ भारती जय विज्ञान  फागुनमे रंग कादोक खेल  छुटबए शीत वसंतक मैल भोजनमे हो नीम प्रयोग  सालो भरि लेल काया निरोग  जय मां भारती जय विज्ञान  अध्यात्म स…

Load More
That is All