नचारी (शिवराति पर विशेष) - मिथिमीडिया - Maithili News, Mithila News, Maithil News, Digital Media in Maithili Language
 नचारी (शिवराति पर विशेष)

नचारी (शिवराति पर विशेष)

Share This
कोना टेबलहुँ नारद एहन वर यौ
कोना टेबलहुँ नारद एहन वर यौ ।

हिनका नहि घर छनि नहि छनि घरारी
छनि नहि लोटा नहि छनि थारी
छनि नहि खेतहु एकहु धूर यौ..
कोना टेबलहुँ नारद एहन वर यौ ।

देहपर हिनका नहि बीतभरि वसन छनि
पाँच टा मुँह बीच तीन टा नयन छनि
ई तऽ छथि बतहा दिगम्बर यौ...
कोना टेबलहुँ नारद एहन वर यौ ।

हमर गौरी छथि बड़ सहलोला
कोनाकऽ पिसथिन भांगक गोला
भूतहु-प्रेतसँ हेतनि डर यौ..
कोना टेबलहुँ नारद एहन वर यौ ।

सकल चराचर केर छथि अधिनायक
ई जोगिया छथि जगत सुखदायक
त्रिभूवन पति, छथि ई 'हर' यौ..
कोना टेबलहुँ नारद एहन वर यौ ।

— चंदन कुमार झा

Post Bottom Ad